यूपी: BJP विधायक रवींद्र नाथ त्रिपाठी को गैंगरेप मामले में मिली क्लीन चिट, पढ़ें पूरा मामला

LIKE फेसबुक पेज

भदोही, 22 फ़रवरी: भाजपा विधायक रविंद्र नाथ त्रिपाठी सहित उनके परिवार के पांच लोगों को सामूहिक बलात्कार मामले में पुलिस ने शनिवार को ‘क्लीन चिट’ दे दी। हालांकि विधायक के भतीजे संदीप तिवारी को बलात्कार का आरोपी माना और उसे गिरफ्तार कर लिया। उत्तर प्रदेश के भदोहीं से भाजपा विधायक के पुत्र नीतेश त्रिपाठी को मारपीट और गाली गलौज का आरोपी माना।

पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने पत्रकारों को बताया, 10 फरवरी को एक महिला ने विधायक सहित सात लोगों पर सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाया था। इस मामले में सात लोगों के विरुद्ध मामला दर्जकर महिला का मजिस्ट्रेट के समक्ष लिखित में बयान दर्ज कराया गया। बयान में भी महिला ने वही बाते दोहराईं जो उसने शिकायत में कहीं थीं।

इस सम्बन्ध में कोतवाल श्रीकांत राय और महिला थाना प्रभारी श्रीमती गुलफिश के नेतृत्व में टीम गठित की गई जिसने जांच में विधायक त्रिपाठी सहित पांच लोगों की इसमें संलिप्तता नहीं पाई। उन्होंने बताया कि लिखित बयान के बाद महिला ने मेडिकल जांच कराने से इनकार कर दिया।

बता दें कि – वाराणसी से मुंबई जाते हुए ट्रेन में संदीप को 40 वर्षीय विधवा मिली थी। महिला ने संदीप पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने तथा साल 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान विधायक, उनके तीन बेटे और तीन भतीजे सहित कुल सात लोगों पर भदोही के एक होटल में बारी-बारी से दुष्कर्म का आरोप लगाया था। लेकिन ये सब फर्जी निकला।