दिल्ली में AAP की बिकराल जीत से बोले हरियाणा के लोग, अब शायद कुछ काम करें BJP नेता, BJP सरकार

LIKE फेसबुक पेज
aap-victory-in-delhi-election-raise-home-in-haryana-ki-janta

नई दिल्ली: हरियाणा में भाजपा सरकार है, 2014 चुनाव में पहली बार हरियाणा को बहुमत मिला, उसके बाद 2019 चुनाव में हरियाणा में भाजपा को बहुमत नहीं मिला और जजपा के साथ मिलकर सरकार बनानी पड़ी। कारण ये है की भाजपा सरकार जनता की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सकी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ना सरकारी स्कूलों को सुधारने की बात करते हैं, ना ही कोई एक्शन लेते हैं, ना सरकार अस्पतालों में कोई सुधार हो रहा है, ना भ्रष्टाचार पर कोई कण्ट्रोल है, ना अफसरशाही पर कोई कण्ट्रोल है, ना पुलिस प्रशासन में भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी पर कोई कण्ट्रोल है, ना रिश्वतखोरी पर कोई कण्ट्रोल है। हरियाणा में भाजपा की सरकार बनाकर जनता को कोई फायदा नहीं हुआ।

वहीं दिल्ली में 2015 में 67 सीटों के साथ आम आदमी पार्टी की सरकार बनी तो उन्होंने सरकारी स्कूलों की हालत को मुद्दा बनाया, शिक्षा सुधरने की पहल शुरू की, सरकार अस्पतालों की हालत सुधारने की पहल की, मोहल्ला क्लिनिक बनाया और बिजली पानी पर सब्सिडी देनी शुरू की, 2020 चुनाव में आम आदमी पार्टी को फिर से बहुमत मिल गया। आज आये नतीजों में 63 सीटों के साथ आप की सरकार बन रही है।

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की जीत से हरियाणा और खासकर फरीदाबाद की जनता में विश्वास की उम्मीदें जगी हैं, अब हरियाणा की जनता को लग रहा है की शायद भाजपा सांसद, विधायक, नेता और भाजपा सरकार, मुख्यमंत्री मनोहर लाल अब कुछ काम शुरू करें, जनता को लगने लगा है की अब शायद हरियाणा की सरकार भी सरकारी स्कूलों की शिक्षा सुधारने पर काम शुरू करेगी। हरियाणा में करीब 5 साल से अधिक समय से भाजपा सरकार है, विधायक सांसद अपनी मस्ती में चूर हैं, कई इतने घमंडी हो चुके हैं की जनता की शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं करते। लेकिन अब दिल्ली की जनता ने इन्हें सबक सिखा दिया है और पूरे देश में यह भी सन्देश दिया है की काम करने वाली पार्टियों को ही वोट मिलेगा।

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की दोबारा सरकार बनने से केजरीवाल पर भी अच्छा काम करने का प्रेशर है क्योंकि भाजपा को भी इस चुनाव में 38 फ़ीसदी से अधिक वोट मिले हैं। अगर केजरीवाल ने अपने काम में थोड़ी सी भी ढिलाई की तो अगली बार भाजपा मैदान मार ले जाएगी।