मोदी बने जिहादियों के दुश्मन, जिहादियों ने 2 टुकड़े कब्जा लिए, तीसरे टुकड़े को बचाने में लगे मोदी

LIKE फेसबुक पेज
why-jihadi-angry-with-pm-narendra-modi-news

नई दिल्ली: इस वक्त भारत में रह रहे जिहादियों के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे बड़े दुश्मन बन गए हैं, जिहादी दिन रात प्रधानमंत्री मोदी को गालियां दे रहे हैं, जिहादियों के बच्चों के वीडियो वायरल हो रहे हैं जिसमें नरेंद्र मोदी के मरने की दुवाएं मांगी जा रही हैं। मोदी जिहादियों के इसलिए दुश्मन बन गए हैं क्योंकि जिहादियों ने भारत के तीन टुकड़े करवाकर दो टुकड़ों पर कब्जा कर लिया है, तीसरे टुकड़े को मोदी कब्जाने नहीं दे रहे हैं इसलिए जिहादी बहुत परेशान हैं।

आप जानते ही हैं कि 1947 में धर्म के आधार पर भारत का बँटवारा हुआ, मुस्लिमों के लिए अलग देश पाकिस्तान बनाया है, जिन्ना ने कहा कि मुस्लिम हिन्दू के साथ नहीं रह सकते इसलिए मुस्लिमों के लिए भारत के टुकड़े करके अलग देश बनाया जाय, जिन्ना की मांग को तत्कालीन कांग्रेस नेता जवाहरलाल नेहरू कर महात्मा गाँधी ने मंजूर किया कर देश का बँटवारा हो गया। हिन्दुओं के लिए हिंदुस्तान और मुस्लिमों के लिए पाकिस्तान। 1971 में पाकिस्तान के भी दो टुकड़े हो गए और बांग्लादेश अलग देश बन गया।

आज भारत के मुस्लिम पाकिस्तानी, बांग्लादेशी और अफगानिस्तान के मुस्लिमों के लिए भारत की नागरिकता की मांग कर रहे हैं जबकि ये तीनों देश इस्लामिक स्टेट घोषित कर दिए गए हैं, मतलब पहले धर्म के आधार पर भारत के तीन टुकड़े करवाए गए, दो टुकड़ों पर इस्लामिक लोगों ने कब्ज़ा कर लिया, अब ये लोग हिंदुस्तान की भी नागरिकता लेकर धीरे धीरे हिंदुस्तान पर भी कब्जा करना चाहते हैं। पाकिस्तान और बांग्लादेश पर अब जिहादियों का पूरा कब्जा हो गया है, वहां पर हिन्दू, सिख और अन्य धर्म के लोगों को या तो जबरन इस्लाम में परिवर्तन कराया जा रहा है या उन्हें ख़त्म कर दिया जाता है। महिलाओं को कभी भी उठाकर उनके साथ बलात्कार किया जाता है, पुलिस और अदालत में हिन्दुओं को न्याय नहीं मिलता। ऐसे ही लोगों को भारत की नागरिकता देने के लिए CAA लागू किया गया है लेकिन भारत के मुस्लिम चाहते हैं की तीनों देशों के मुस्लिम नागरिकों को भी भारत की नागरिकता दो, ऐसा करके ये लोग भारत को भी इस्लामिक राष्ट्र बनाना चाहते हैं।

अब आप सोचिये, भारत के मुस्लिम पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के मुस्लिमों के लिए भारत की नागरिकता की मांग कर रहे हैं जबकि इनके लिए पहले से ही देश बनाया जा चुका है, अब तो ऐसा लग रहा है कि भारत के मुस्लिम भी हिंदुस्तान को इस्लामिक राष्ट्र बनाकर तीनों टुकड़े पर कब्जा करना चाहते हैं। भारत सरकार ने नागरिकता संसोधन कानून में तीनों देशों में मुस्लिम घुसपैठियों को नागरिकता ना देने का कानून पास किया है जिसका भारत के अधिकांश मुस्लिम विरोध कर रहे हैं, दिल्ली के शाहीन बाग़ सहित देश के कई इलाकों पर मुस्लिम महिलाओं के जरिये प्रदर्शन करवाया जा रहा है, इससे पहले मुस्लिमों ने देश के कई हिस्से में दंगे, आगजनी की और सरकार सम्पति को जमकर नुकसान पहुँचाया।