हिन्दुओं और सिखों को हो रही है देवेंदर सिंह से घृणा, लेकिन मुस्लिमों को अफजलों से है प्यार

LIKE फेसबुक पेज
terrorist-devender-singh-vs-afzal-guru-hindu-vs-islam

नई दिल्ली: हिन्दू धर्म सच में महान है, अगर हिन्दू धर्म में कोई आतंकी या देशद्रोही पकड़ा जाता है तो हिन्दू धर्म के लोग उससे घृणा करते हैं, उसके लिए फांसी या अधिकतर सजा की मांग करते हैं लेकिन इस्लाम धर्म में ऐसा कुछ भी नहीं है, इस्लामिक आतंकियों के पकडे जाने के बाद मुस्लिम लोग उनसे सहानुभूति जताते हैं, उसे अपने धर्म पर अत्याचार बताते हैं, आतंकियों के मारे जाने या उन्हें फांसी मिलने के बाद उनके जनाजे में हजारों लाखों लोग जुटते हैं और दुःख जताते हैं।

इसी हप्ते कश्मीर में DSP देवेंद्र सिंह तीन अन्य आतंकियों के साथ पकडे गए। पुलिस ने उन्हें तुरंत आतंकियों की तरह ही गिरफ्तार किया, अब उनके साथ आतंकियों जैसा ही ट्रीटमेंट हो रहा है, हिन्दुओं और सिखों को भी देवेंद्र सिंह से घृणा हो रही है और उनके लिए मैक्सिमम सजा की मांग की जा रही है।

वहीं एक आतंकी अफजल गुरु था जिससे मुस्लिमों को बहुत ज्यादा सहानुभूति थी, उसकी फांसी की सजा का विरोध करने के लिए देश में कोहराम मच गया था, फांसी मिलने के बड़ा भी उसके प्रति मुस्लिमों की सहानुभूति ख़त्म नहीं हुई और टुकड़े टुकड़े गैंग के लोग अभी भी उसकी बरसी मनाते हैं। यही नहीं कुछ दिनों पहले एनकाउंटर में मारा गया आतंकी बुरहान वाणी भी मुस्लिमों की नजर में हीरो है।

देश में कहीं भी मुस्लिम आतंकी मारे जाते हैं तो मुस्लिम समाज खुश नहीं होता, ट्विटर या सोशल मीडिया पर उनकी प्रतिक्रिया नहीं मिलती लेकिन देवेंद्र सिंह के पकडे जाने पर हजारों मुस्लिम अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं, वे इसलिए खुश हैं की अब उन्हें हिन्दू धर्म पर उंगली उठाने का मौका मिल गया है।