जातिवाद का जहर घोलने वाले प्रो. दिलीप मंडल MCU से बर्खास्त, लोग बोले- बहुत बढ़िया

भोपाल, 5 जनवरी: माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा जातिवादी टिप्पणी करने वाले एडजंक्ट फैकल्टी दिलीप मंडल को बर्खास्त कर दिया गया है, मंडल की सेवाएं अब नहीं ली जाएंगी। विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार दीपेंद्र बघेल ने इसकी पुष्टि की है। बता दें की मंडल को एमसीयू लेक्चर के लिए बुलाता था और हर लेक्चर के हिसाब से भुगतान करता था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार दीपेंद्र बघेल ने बताया कि मंडल को लेकर छात्रों ने विरोध दर्ज कराया था। विवि प्रशासन ने इस पर मंडल का पक्ष जानने की कोशिश की गई। उन्हें स्पीड पोस्ट व ईमेल के माध्यम से संपर्क किया गया, लेकिन उन्होंने जवाब देना जरूरी नहीं समझा। इसलिए यह निर्णय लिया गया है कि भविष्य में उन्हें विवि में आमंत्रित नहीं किया जाएगा।

https://twitter.com/Dikshapandey22/status/1213724872032976896?s=20

आपकी जानकारी के लिए बता दें की दिलीप मंडल दलित हैं और सवर्ण बच्चों के खिलाफ एक के बाद कई विवादित जातिवादी ट्वीट किये थे, उसके बाद छात्र मंडल के खिलाफ धरने पर पैठ गए, मंडल ने अपनी पावर का नाजायज फायदा उठाते हुए 23 छात्रों को निष्काषित करा दिया था। छात्रों के निष्काशन के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मामलें में दखल दिया।

बीजेपी नेता पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने निष्कासन पर कहा था- विश्वविद्यालय के छात्रों के साथ प्रशासन ने आतंकियों जैसा व्यवहार किया। इसके बाद विश्वविद्यालय प्रसाशन ने मंडल का पक्ष जानने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया, जिसके बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया गया।