नागरिकता संसोधन कानून: केजरीवाल बोले- हिन्दुओं के जरिये जासूस भेजेगा पाकिस्तान

नई दिल्ली, 5 जनवरी: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के प्रावधानों को लेकर एक अलग ही आशंका जताई है। केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि इसकी इसकी कोई गारंटी नहीं है कि पाकिस्तान सीएए के तहत हिंदुओं को जासूस के रूप में नहीं भेजेगा।

एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में केजरीवाल ने इस कानून लाने को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि इसका हिंदू और मुसलमान दोनों पर प्रभाव पड़ेगा। केंद्र को पहले अपने नागरिकों का खयाल करना चाहिए। उसके बाद ही अन्य देशों के लोगों के बारे में सोचना चाहिए।

केजरीवाल ने कहा, कई सारे सवाल हैं, जिनके जवाब की जरूरत है। जैसे, इसकी क्या गारंटी है कि पाकिस्तान इस संशोधित नागरिकता कानून के तहत हिंदुओं को जासूस के रूप में नहीं भेजेगा। यह गलत धारणा है कि सीएए का असर सिर्फ मुसलमानों पर होगा। इससे वे हिंदू भी प्रभावित होंगे, जो अपने दस्तावेज नहीं दिखा पाएंगे।

मालूम हो कि नागरिकता संसोधन कानून के तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश तथा अफगानिस्तान में इस्लामिक अत्याचार का शिकार हुए गैरमुस्लिमों को भारत में आसानी से नागरिकता मिल जायेगी।