बार एसोशिएशन ने पास किया प्रस्ताव, पाकिस्तान में गैर मुस्लिम नहीं लड़ सकेंगे चुनाव?

LIKE फेसबुक पेज

इस्लामाबाद, 12 जनवरी: एक तरफ भारत जहां पाकिस्तान समेत पड़ोसी देशों में सताए जा रहे गैर मुस्लिमों को भारतीय नागरिकता के लिए कानून बना चुका है वहीं पाक में अल्पसंख्यकों के साथ खुलकर भेदभाव किया जा रहा है।

पाकिस्तान के मुल्तान बार एसोसिएशन ने बाकायदा एक प्रस्ताव पारित कर गैर मुस्लिम वकीलों को बार काउंसिल के चुनाव में भाग लेने से मना किया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मुल्तान के जिला बार एसोसिएशन से जुड़े वकीलों ने यह प्रस्ताव वहां होने वाले बार काउंसिल के चुनावों से ठीक पहले पारित किया है।

इस रिपोर्ट के मुताबिक बार का चुनाव लड़ने वाले वकीलों को भी इस्लाम में अपनी आस्था को साबित करने के लिए एक हलफनामा पेश करना होगा। वकीलों की इस हरकत पर पाकिस्तान में कोई भी निकाय आवाज नहीं उठा रही है। वैसे पाकिस्तान में गैरमुस्लिमों के साथ हमेशा से ही भेदभाव किया जाता रहा है, ये कोई नई बात नहीं है।