शाहीन बाग में मुस्लिमों के कब्जे के कारण जाम में फंसी रही एम्बुलेंस, एक बुजुर्ग की मौत

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 13 जनवरी: नागरिकता संसोधन कानून ( CAA ) और एनआरसी के विरोध में मुस्लिम प्रदर्शनकारी लगभग एक महीनें से दिल्ली के शाहीन बाग़ में डेरा जमाकर बैठ गएँ हैं, जिससे लोगों को अब काफी दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है, प्रदर्शनकारियों की वजह से एक एम्बुलेंस घंटों जाम में फंसी रही उसके अस्पताल पहुँचने से पहले ही व्यक्ति की मौत हो गयी।

पत्रकार पंकज झा ने जानकारी देते हुए बताया की – महीने भर से लोग बेहाल हैं, फ़रीदाबाद, दिल्ली से लेकर नोएडा तक, हाहाकार मचा है. 20 मिनट में ऑफिस पहुँचने वाले 2 घंटे में पहुँचते हैं. मेरे एक मित्र के पिता ट्रैफ़िक जाम में फँसे रहे, अस्पताल पहुँचने से पहले चल बसे। एक दो दिन की बात होती तो लोग सब्र कर लेते।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की -हरियाणा-दिल्ली-यूपी को जोड़ने वाली नोएडा-सरिता विहार रोड (रोड नंबर-13ए) पर मुस्लिम प्रदर्शनकारी टेंट लगाकर बैठ गए हैं, प्रदर्शनकारी किसी भी सूरत में यह रोड खाली करने को तैयार नहीं हैं। इन प्रदर्शनकारियों की वजह से रोज लगभग 10 लाख लोग जाम से जूझ रहे हैं। 15 दिसंबर से शाहीन बाग के सामने प्रदर्शनकारी टेंट लगाकर सड़क के बीचों-बीच बैठे हैं।

मुस्लिम प्रदर्शनकारियों के सड़क जाम करने से स्कूल जाने वाले बच्चों का बचपन सड़क पर दम तोड़ रहा हैं, सायरन बजाती एम्बुलेंस में मरीज दफन हो रहे हैं, लेकिन इन प्रदर्शनकारियों पर कोई फर्क ही नहीं पद रहा है।