मुस्लिम प्रदर्शनकारियों को ला इलाहा इलल्लाह बोलते देखकर बोले मेजर पुनिया, यह ‘गजवा ए हिंद’ प्रोजेक्ट की शुरुआत है

दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में मुस्लिम प्रदर्शनकारी महीने भर से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन उनके प्रदर्शन में कभी जिन्ना वाली आजादी की मांग की जाती है और सभी ला इलाहा इलल्लाह जैसे नारे लगाए जाते हैं।

मुस्लिम प्रदर्शनकारियों का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह ला इलाहा इल्लल्लाह जैसे धार्मिक नारे लगाते हुए दिखाई दे रहे हैं इस पर प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व मेजर सुरेंद्र पूनिया ने कहा कि यह नागरिकता संशोधन कानून का विरोध नहीं है बल्कि गजवा ए हिंद प्रोजेक्ट की शुरुआत है और यह प्रदर्शनकारी इसी प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं ताकि आने वाले समय में भारत से हिंदुओं को मिटा कर यह इसे इस्लामिक राष्ट्र यानी गजवा ए हिंद बना सके।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत में रहने वाले जिहादी भारत को हिंदू मुक्त बनाने का सपना देखते रहे हैं और आए दिन गजवा ए हिंद के नारे भी लगते रहते हैं।

मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून लाकर पाकिस्तान बांग्लादेश और अफगानिस्तान में इस्लामिक कट्टरपंथ के शिकार हिंदू सिख जैन ईसाई जैसे अल्पसंख्यक, शरणार्थियों को भारत की नागरिकता देने का फैसला किया है जिसके विरोध में मुस्लिम समाज के कुछ लोग महीने भर से सड़कों पर हैं और कांग्रेस जैसी विपक्षी पार्टियां भी इनका समर्थन कर रही है।