केजरीवाल ने अपने ही साथियों को जनता बनाकर पुछवाया सवाल और दिया सेट किया हुआ जवाब, लेकिन पकड़े गए

नई दिल्ली, 5 जनवरी: दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी तैयारी शुरू कर दी है। भले ही अभी चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है?

मालूम हो की पांच साल पहले दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (AAP) और उसके मुखिया अरविंद केजरीवाल ने अभूतपूर्व जीत हासिल की थी. इन पांच सालों के दौरान AAP सरकार ने स्कूली शिक्षा और बिजली-पानी जैसे बहुत-से मोर्चों पर अनूठे और शानदार काम करने का दावा किया, जबकि विपक्षी दल इन दावों को खोखला करार देने में जुटे रहे।

अब मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने खुद ही जनता के बीच आकर अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश किया, और जनता के सवालों के जवाब भी दिए..लेकिन इसी दौरान केजरीवाल की चालाकी पकड़ी गयी.

दरअसल टाउन हॉल में एनडीटीवी द्वारा आयोजित कार्यक्रम में केजरीवाल जनता के जवाबों का जवाब दे रहे थे, लेकिन टीवी पर लोग जिसे जनता समझ रहे थे असल में वो केजरीवाल का साथी यानी आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता था।

खुद को जनता के रूप में पेशकर अभिषेक तिवारी ( आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता ) ने केजरीवाल से कहा की, मैं कांड़ली विधानसभा छेत्र से ताल्लुक रखता हूँ, हमारे यहाँ सबसे बड़ी परेशानी यह थी की नशे करने वाले लड़के, लड़कियों को छेड़ा करते थे, लेकिन स्ट्रीटलाइट और सीसीटीवी कैमरे लग जाने से दारुबाज लड़कों ने खड़े होना ही छोड़ दिया। तिवारी के सवाल का जवाब देते हुए केजरीवाल ने कहा, महिलायें अब सुरक्षित महसूस कर रही हैं। इसके बाद अभिषेक तिवारी ने कहा, सुरक्षित ही नहीं रात के दो बजे भी कोई खटर-पटर होता है तो तुरंत पता चल जाता है कमरों की वजह से।

इससे सवाल यह उठता है की क्या? केजरीवाल ने दिल्ली में पिछले पांच साल में कोई विकास नहीं किया है, अगर किया है तो सवाल पूछने के लिए आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता को ही जनता का रूप देकर क्यों सवाल जवाब करवा रहे हैं। अगर काम किया है तो कोई भी व्यक्ति बता सकता है हाँ भाई केजरीवाल ने काम किया है?