हाईकोर्ट ने केजरीवाल के मंत्री जीतेन्द्र तोमर की विधायकी की रद्द लेकिन 5 साल पूरे होने के बाद

LIKE फेसबुक पेज
highcourt-cancelled-kejriwal-minister-jitender-tomer-mla

नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट ने आम आदमी पार्टी के तिलक नगर से विधायक जीतेन्द्र तोमर की विधायकी रद्द कर दी है लेकिन हैरानी वाली बात ये है की जीतेन्द्र तोमर का पांच साल का कार्यकाल पूरा हो चुका है, वह पांच साल तक मंत्री भी रहे और उन्हें पूरी सैलरी भी मिली, उन्होंने विधायक और मंत्री होने का हर सुख भोगा, जब हर सुख भोग लिया तो हाई कोर्ट ने उनकी विधायकी रद्द कर दी।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की जीतेन्द्र तोमर ने फर्जी डिग्री बनवाकर चुनाव लड़ा था, जब उसकी जांच हुई तो उनकी डिग्री फर्जी पायी गयी, उनके खिलाफ कार्यवाही हुई, कोर्ट में केश हुआ, भाजपा नेता नन्द किशोर गर्ग ने कोर्ट में उनके खिलाफ शिकायत की थी। उनपर कार्यवाही होने में देरी हो गयी और पांच साल पूरे होने के बाद उनकी विधायकी गयी, अब उन्हें विधायक नहीं माना जाएगा।

हैरानी की बात ये है कि अरविन्द केजरीवाल ने फेक डिग्री के बाद भी जीतेन्द्र तोमर पर भरोसा कायम रखा है और उन्हें तिलक नगर से फिर से टिकट दिया है, मतलब केजरीवाल को उनकी फेक डिग्री से कोई फर्क नहीं पड़ता।