7 साल पहले बोल दिए थे योगी, एक झटके में ठीक होंगे जिहादी, तब थी SP सरकार, इसलिए अब कर रहे इलाज

yogi-adityanath-video-in-support-of-meerut-sp-akhilesh-narayan-singh

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जिहादियों की पाकिस्तान परस्ती आज से नहीं चल रही है, जिहादी दशकों से उत्तर प्रदेश को पाकिस्तान बनाने का मंसूबा पाले बैठे हैं और बीच बीच में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाकर अपनी पाकिस्तान परस्ती दिखते रहते हैं। योगी आदित्यनाथ ने 7 साल पहले ही एक वीडियो में बता दिया था कि पाकिस्तान जिंदाबाद बोलने वाले जिहादियों को पाकिस्तान चले जाना चाहिए, अगर इनके पास किराया नहीं है तो हम इन्हें किराया भी देंगे और इनके जाने का पूरा इंतजाम भी करेंगे। उन्होंने यह भी कहा था अगर प्रशासन चाहे तो जिहादी एक झटके में ठीक हो जाएंगे लेकिन प्रशासन अपने हाथों में इनकी कालिख मले बैठा है, देखिये वीडियो –

उपरोक्त वीडियो में 2012 में उन्होंने कहा था कि जब आप किसी झूठे बर्तन को साफ़ करेंगे तो कालिख हाथों में भी लगेगी लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि कोई उस कालिख को अपने मुंह पर पोत ले।

मेरठ के एसपी ने भी आजमाया योगी फार्मूला

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नागरिकता संसोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए मेरठ के जिहादियों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे, उन्हें पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते हुए देखकर एसपी अखिलेश नारायण सिंह ने कहा – अगर इन लोगों को पाकिस्तान पसंद है तो चले जाएं पाकिस्तान, ये लोग खाते इस देश का हैं और गाते पाकिस्तान का हैं।

मेरठ के एसपी के इस वीडियो को देखकर विपक्षी पार्टियों ने उनपर हमले शुरू कर दिए थे लेकिन योगी आदित्यनाथ का ये वीडियो कह रहा है कि कोई एसपी साहब के कितना भी पीछे पड जाए कोई उनका बाल भी बांका नहीं कर सकता।