नागरिकता क़ानून पर शिवसेना ने दिया कांग्रेस को झटका, राष्ट्रपति से मिलने वाले विपक्षी प्रतिनिधिमंडल में…

LIKE फेसबुक पेज

महाराष्ट्र, 17 दिसंबर: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध की चिंगारी पूर्वोत्तर के बाद देश के कई कॉलेज और यूनिवर्सिटीज तक पहुंच चुकी है। देशभर में विरोध प्रदर्शन के मामले बढ़ते जा रहे हैं, इस बीच विपक्षी दल इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से आज शाम मुलाकात करने वाले हैं।

हालांकि महाराष्ट्र में कांग्रेस की सहयोगी शिवसेना ने साफ किया है कि वह ऐसे किसी प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं बनने जा रही है। बता दें कि इससे पहले भी नागरिकता बिल पर शिवसेना ने संसद में यू-टर्न लिया था।

नागरिकता संशोधन कानून पर विपक्षी दलों के एक प्रतिनिधिमंडल के राष्ट्रपति से मुलाकात की खबर पर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, ‘मुझे इस बारे में नहीं पता है। शिवसेना इस प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा नहीं है।

बता दें की शिवसेना ने लोकसभा में नागरिकता बिल के पक्ष में वोट दिया था, राज्यसभा में वाकआउट कर लिया था। इसका सीधा मतलब यह है की शिवसेना अप्रत्यक्ष रूप से नागरका संसोधन कानून का समर्थन कर रही है।