भगवान राम के मंदिर के खिलाफ मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन का मुस्लिम पक्ष ने ही किया अपमान

LIKE फेसबुक पेज
rajiv-dhawan-sacked-from-muslim-paksh-lawyer-supreme-court

नई दिल्ली: हिन्दू होने के बाद भी राजीव धवन सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष की तरफ से राम मंदिर के खिलाफ बाबरी मस्जिद की पैरवी कर रहे थे, उन्होंने राम मंदिर के खिलाफ अपनी पूरी ताकत लगा दी, उन्होंने राम मंदिर मैप को सुप्रीम कोर्ट में ही दो टुकड़े कर दिए, राजीव धवन की जमकर आलोचना भी हुई उसके बावजूद भी उन्होंने जिम्मेदारी के साथ मुस्लिम पक्ष की वकालत की लेकिन आज उसी मुस्लिम पक्ष ने राजीव धवन का अपमान कर दिया।

सुप्रीम कोर्ट में जमीयत उलेमा ऐ हिन्द ने राम मंदिर के खिलाफ मुनर्विचार याचिका डाली है। राजीव धवन पुनर्विचार याचिका पर काम कर रहे थे लेकिन जमीयत उलेमा ऐ हिन्द ने उन्हें वकील के पद से हटा दिया।

राजीव धवन के बारे में कहा गया की वह बीमार हैं इसलिए हम उन्हें वकील पद से हटा रहे हैं जबकि राजीव धवन ने कहा कि वह पूरी तरह से ठीक हैं और पुनर्विचार याचिका पर कार्य कर रहे हैं, उन्हें किस वजह से हटाया गया ये उन्हें भी नहीं पता। एक तरह से कहें तो सुप्रीम कोर्ट के एक बड़े वकील के बारे में उलेमा ऐ हिन्द ने झूठ फैलाया है और उनका अपमान किया है।