मुसलमानों के खिलाफ नहीं है नागरिकता कानून, कांग्रेस के झांसे मे न आएं मुस्लिम भाई: नितिन गड़करी

नागपुर, 22 दिसंबर: देशभर में हो रहे नागरिकता संसोधन कानून के विरोध के बीच केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है की नागरिकता संसोधन कानून मुस्लिमों के खिलाफ नहीं है।

महाराष्ट्र के नागपुर में नागरिकता कानून के समर्थन में रैली के दौरान नितिन गडकरी ने कहा है कि हिंदुत्व किसी के खिलाफ नहीं है. सिर्फ भारत ही हिंदुओं को शरण दे सकता है. नितिन गडकरी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून मुसलमानों के खिलाफ नहीं है. भारत ने सबको अपनाया है।

गडकरी ने आगे कहा की, नागरिकता कानून केवल पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में महजबी कटटरपंथ से पीड़ित लोगों के लिए है, उन्होंने कहा की, ये तीनों देश इस्लामिक राष्ट्र हैं, यहाँ पर अल्पसंख्यकों पर अत्याचार होता है।

इसके साथ ही गडकरी ने मुस्लिमों से अपील करते हुए कहा की, कांग्रेस के झांसे में न आएं, कांग्रेस तुम्हीं सिर्फ वोट मशीन के रूप में देखती है बस।

बता दें की अधिकतर मुस्लिम समुदाय के लोग नागरिकता संसोधन कानून को मुस्लिम विरोधी बताकर इसका विरोध कर रहे हैं, कांग्रेस सहित कई विपक्षी पार्टियों को इनका साथ भी मिल रहा है।