पत्रकार ने कहा- राहुल…..गांधी कैसे हो गए, पहले इसको साबित करें

नई दिल्ली, 15 दिसंबर: दिल्ली के रामलीला मैदान से राहुल गांधी के एक बयान ने उनके गांधी होने पर ही सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं? राहुल गांधी ने क्रांतिकारी वीर सावरकर की दुहाई देते हुए कहा कि वे ‘रेप इन इंडिया’ वाले अपने बयान पर माफी नहीं मांगेगे क्योंकि उनका नाम राहुल सावरकर नहीं, राहुल गांधी है।

राहुल गांधी के इस बयान को लेकर सियासत गर्म हो चुकी है, यहाँ तक की कांग्रेस की सहयोगी शिवसेना ने भी राहुल गांधी के बयान पर आपत्ति जताई है, इसी बीच एक पत्रकार ने पूछा है की राहुल? गांधी कैसे हो गए पहले इसे साबित करें?

इण्डिया टीवी के एंकर एवं पत्रकार सुशांत सिन्हा ने अपने ट्वीट में लिखा- उधार के सरनेम पर सियासी मलाई खाने के आदि हो चुके राहुल ‘गांधी’ जी को लगता है कि जब मन जिसका चाहे उसका सरनेम लगाया जा सकता है। अरे नहीं सर? सुशांत ने आगे लिखा, ना आप राहुल सावरकर हो सकते हैं, ना राहुल सिन्हा, ना राहुल पांडे और ना राहुल खान। एक उधार का सरनेम जो लगा रखा है उसे तो पहले जस्टिफाई कर दें।

बता दें की जबसे राहुल ने कहा है, मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं है, राहुल गांधी है, तबसे लोग सवाल उठा रहे हैं की जिसका दादा फिरोज खान हो, परदादा नेहरू हो तो वो गांधी कैसे हो सकता है?