जामिया हिंसा पर गौतम गंभीर बोले- पत्थर फेंकोगे तो पुलिस जवाब देगी? इसमें कोई संकोच नहीं

नई दिल्ली, 18 दिसंबर: नागरिकता कानून के विरोध में जामिया में हुई खूनी हिंसा मामले में पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने अपनी प्रतिक्रया दी है.

क्रिकेटर से राजनेता बनें गौतम गंभीर ने कहा, छात्रों पर लाठी चार्ज गलत है, लेकिन यदि आप पत्थर फेंकोगे तो पुलिस कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि पुलिस ने यदि अपने आत्मरक्षा में बल प्रयोग किया तो कुछ गलत नहीं है।

इसके अलावा गौतम गंभीर ने यह भी कहा कि आप अपनी समस्याएं रखिए और इन हल निकालना सरकार की जिम्मेदारी है। गंभीर ने कहा, छात्र होकर अआप अपनी मांगो के लिए हिंसक प्रदर्शन करें? ये कतई जायज नहीं है।

बता दें कि रविवार को इस नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा में जामिया के छात्रों सहित कई प्रदर्शनकारी, पुलिस कर्मचारी और स्थानीय लोग चोटिल हुए। साथ ही दिल्ली परिवहन निगम की चार बसों को जला दिया गया और 100 से अधिक निजी वाहनों पुलिस की 10 मोटरसाइकिलों को नुकसान पहुंचाया गया।