JNU में तोड़ी गई स्वामी विवेकानंद की मूर्ति- राहुल गांधी, अखिलेश, ममता सहित सभी विपक्षी खामोश

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 15 नवंबर: फीस बढ़ने के नाम पर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच जेएनयू में लगी स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को छतिग्रस्त कर दिया है, स्वामी विवेकानंद की मूर्ति तोड़ने का आरोप वामपंथी छात्रों पर लगा है, क्यूंकि वामपंथी छात्र ही विरोध प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे हैं।

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी ( जेएनयू ) में इतनी बड़ी घटना हो जाने के बावजूद देश के विपक्षी नेताओं ने चुप्पी साध रखी है, कोई भी नेता वामपंथियों के खिलाफ एक भी शब्द बोलने को तैयार नहीं है. इस मामलें में अभी तक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, बसपा अध्यक्ष मायावती, टीएमसी अध्यक्ष एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सहित सभी विपक्षी नेताओं ने एक भी ट्वीट नहीं किया है.

ये नेता जो आज जेएनयू में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति टूटने पर खामोश हैं, यही नेता अगर लिंचिंग की झूठी भी भनक पा जाते हैं तो ट्वीट की झड़ी लगा देते हैं। हालाँकि लिंचिंग में मरने वाला मुस्लिम और मारने वाला हिन्दू हो तभी।