कांग्रेस और भूतपूर्व कांग्रेस के बारे में मीठा-मीठा बोलने लगी शिवसेना

shivsena-may-support-ncp-congress-for-maharashtra-government

मुंबई: महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर किचकिच जारी है, जनता ने गठबंधन में चुनाव लड़ी भाजपा शिवसेना को सरकार बनाने के लिए बहुमत दिया था लेकिन शिवसेना अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए अड़ गई जिसकी वजह से भाजपा शिवसेना में ठन गयी।

महाराष्ट्र के राज्यपाल ने 105 सीटों वाली भाजपा को सरकार बनाने का आमंत्रण दिया है लेकिन भाजपा बिना शिवसेना के समर्थन के सरकार बना ही नहीं सकती, भाजपा मीटिंग करके इसपर निर्णय लेगी।

शिवसेना भाजपा को समर्थन देने के बजाय अब कांग्रेस और भूत पूर्व कांग्रेस यानी एनसीपी के लिए मीठा मीठा बोलने लगी है। शिवसेना सांसद और बयानबीर संजय राउत ने कहा की कांग्रेस और एनसीपी महाराष्ट्र की दुश्मन थोड़ी ही है, दोनों पार्टियों ने महाराष्ट्र की बेहतरी के लिए कार्य किया है।

इससे पहले भी शिवसेना कांग्रेस एनसीपी के लिए सॉफ्ट रही है। भाजपा के पास सरकार बनाने के लिए सिर्फ एक रास्ता है, एनसीपी का समर्थन। अगर मोदी ने शरद पवार से बातचीत की तो वह समर्थन के लिए जरूर तैयार होंगे और भाजपा एनसीपी की सरकार बन जाएगी।