प्रियंका चतुर्वेदी कांग्रेस से परेशान होकर शिवसेना में आई लेकिन शिवसेना ही कांग्रेस से मिल गई

LIKE फेसबुक पेज

महाराष्ट्र, 11 नवंबर: महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए दो धुर विरोधी पार्टियां ( शिवसेना-कांग्रेस ) मिल गई हैं, लेकिन इसी बीच शिवसेना नेत्री प्रियंका चतुर्वेदी बलि का बकरा बन गयी हैं, जी हाँ।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि – लोकसभा चुनाव से पहले प्रखर वक्ता प्रियंका चतुर्वेदी कांग्रेस से परेशान होकर शिवसेना में चली गई थी, उसके बाद टीवी डिबेटोँ में जमकर कांग्रेस पर बरस रही थी, लेकिन समय का चक्र ऐसा घूमा की सत्ता की लालच में शिवसेना ही जाकर कांग्रेस के गोद में बैठ गई। अब प्रियंका गांधी सोंच रही होंगी अब करे तो आखिर क्या करें।

अब अगर प्रियंका चतुर्वेदी चाहे तो शिवसेना से इस्तीफ़ा देकर अपने सिद्धांत पर अटल रह सकती हैं, नहीं तो शिवसेना में रहेंगी जरूर लेकिन कांग्रेस के खिलाफ अपनी भड़ास नहीं निकाल पाएंगी।

फिलहाल अभी महाराष्ट्र में सरकार बनने का रास्ता साफ़ नहीं हो पाया है, सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस शिवसेना को बाहर से समर्थन देगी, लेकिन अब लगभग तय हो गया है की महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा।