जो बीजेपी और विश्व हिन्दू परिषद् चाहते थे सुप्रीम कोर्ट ने वही किया: कांग्रेस का मुखपत्र नेशनल हेराल्ड

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 10 नवंबर: दशकों से चले आ रहे अयोध्या राम मंदिर और बाबरी विवाद के केस का शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने निपटारा कर दिया। सुप्रीम कोर्ट के इस ऐतिहासिक फैसले का देशवासियों ने स्वागत किया है और दिल से स्वीकारा भी है. लेकिन कांग्रेस पार्टी के मुखपत्र नेशनल हेराल्ड ने सुप्रीम कोर्ट की ही विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा कर दिया है.

कांग्रेस पार्टी के मुखपत्र नेशनल हेराल्ड ने लिखा की – भारत के सुप्रीम कोर्ट ने ठीक वही किया जो बीजेपी और विश्व हिन्दू परिषद् चाहते थे, हेराल्ड ने आगे लिखा, यहाँ तक की सुप्रीम कोर्ट ने माना भी की मूर्ति स्थापित करना और मस्जिद गिराना गैरकानूनी था, इसके बावजूद।

नेशनल हेराल्ड ने साफ़-साफ़ सुप्रीम कोर्ट की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया है, इसके अलावा हेराल्ड ने भारत के न्याय प्रणाली की तुलना निठल्ले पाकिस्तान से की, जिसपर बीजेपी ने आपत्ति जताई है, बता दें की ये वही नेशनल हेराल्ड है, जिसके मामलें में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी जमानत पर चल रहे हैं।