नीतीश सरकार की नाकामी: एंबुलेंस का इंतजार करता रहा महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह का पार्थिव शरीर

LIKE फेसबुक पेज

पटना, 14 नवंबर: महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह का निधन गुरुवार को पटना के पीएमसीएच में हो गया, लेकिन दुनियाभर से चर्चित गणितज्ञों में शुमार किए जाने वाले वशिष्ठ नारायण निधन के बाद भी सरकारी उपेक्षा के शिकार बने और काफी देर तक उनका शव एंबुलेंस का इंतजार करता रहा…एम्बुलेंस न आने से नीतीश सरकार की नाकामी भी उजागर हो गई।

परिजनों के साथ पटना के कुल्हरिया कांप्लेक्स के पास रहने वाले वशिष्ठ नारायण सिंह की तबीयत आज सुबह अचानक खराब हो गई. बताया जा रहा है कि आज तड़के उनके मुंह से खून निकलने लगा. जिसके बाद उन्हें तत्काल परिजन पीएमसीएच लेकर गए जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

परिजनों का आरोप है कि वशिष्ठ नारायण सिंह की मृत्यु के 2 घंटे तक उनकी लाश अस्पताल के बाहर पड़ी रही. 2 घंटे के इंतजार के परिवार वाले प्राइवेट एम्बुलेंस करके पार्थिव शरीर घर ले गए। सोशल मीडिया पर लोग नीतीश सरकार को जमकर कोष रहे हैं।