सोशल मीडिया पर पुलिस-प्रसाशन की पैनी नजर, अयोध्या मामले पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों पर होगी कार्यवाही

अयोध्या, 4 नवंबर: अयोध्या राम मंदिर-बाबरी मस्जिद ऐतिहासिक मामलें पर सुप्रीम कोर्ट कभी भी फैसला सुना सकता है। अयोध्या मामलें को लेकर साम्प्रदायिक सौहार्द न बिगड़े इसके लेकर पुलिस प्रसाशन ने अब कमर कास ली है।

अयोध्या के मजिस्ट्रेट, अनुज कुमार झा ने विवादित भूमि से जुड़े किसी भी तरह के भड़काऊ सोशल मीडिया मैसेज या विवादित पोस्टरों पर रोक लगा दी है. यह नियम 28 दिसंबर तक लागू रहेगा।

आदेश के मुताबिक, भूमि विवाद से जुड़े ऐसे कोई भी संदेश नहीं भेजे जा सकते जिनसे सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ सकता है. आदेश में कहा गया है कि यदि कोई नियम का उल्लंघन करते हुए पकड़ा जाएगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी…यही निर्देश यूपी पुलिस ने भी जारी किया है।