किसी दूसरी जगह मंजूर नहीं मस्जिद की जमीन, फिर सुप्रीम कोर्ट जाएगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 17 नवंबर: अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला मंदिर के हक में जाने के बाद रविवार को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने इस मसले पर बैठक की, बैठक के बाद मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को चुनौती दी जाएगी और उन्हें किसी और जगह मस्जिद मंजूर नहीं है।

बोर्ड के सचिव मोहम्मद महफूज रहमानी ने कहा कि हम मस्जिद के बदले जमीन नहीं लेंगे. शरीयत के हिसाब से हमें ऐसा कोई हक नहीं है क्योंकि शरीयत के मुताबिक एक बार मस्जिद हो गई तो वो आखिरी तक मस्जिद होती है।

मोहम्मद रहमानी ने कहा कि मस्जिद के एवज में हमें जमीन कबूल नहीं है. यह निर्णय ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड की बैठक में सर्वसम्मति से लिया गया है. बैठक में यह भी तय हुआ कि राजीव धवन ही सुप्रीम कोर्ट में हमारे केस की पैरवी करेंगे।