अयोध्या केस: सुन्नी वक्फ बोर्ड ने स्वीकार की संभावित हार, SC को पत्र लिखकर की ये अपील

LIKE फेसबुक पेज

अयोध्या, 16 सितम्बर: सुप्रीम कोर्ट लगभग 23 दिन से अयोध्या राम मंदिर मामलें की सुनवाई कर रहा है, कोर्ट अभी किसी नतीजे तक नहीं पहुंची है लेकिन इसी बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड ने अपनी संभावित हार स्वीकार कर ली है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक़, मुस्लिम पक्षकार सुन्नी वक्फ बोर्ड अयोध्या मामलें को कोर्ट से बाहर यानी बातचीत के जरिये सुलझाना चाहता है…इस सम्बन्ध में सुन्नी वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित मध्यस्थता पैनल को पत्र लिखा है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि – अयोध्या मामलें पर सुप्रीम कोर्ट ने पहले मध्यस्थता से हल निकालने के लिए पैनल बनाया था। 155 दिनों तक कोशिशें भी हुईं, लेकिन कोई हल नहीं निकला। यह सामने आया था कि हिंदू और मुस्लिम पार्टियां इस विवाद का समाधान निकालने में सफल नहीं रहीं। इसके बावजूद सुन्नी बक्फ बोर्ड दोबारा से बातचीत की वकालत कर है.

दरअसल सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच सुन्नी वक्फ बोर्ड को अपनी हार का एहसास हो गया है, इसलिए सुन्नी वक्फ बोर्ड बातचीत के बहाने सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई को रुकवाकर फिर से इस मामलें को लटकाना चाहता है.