मुस्लिमों से परहेज नहीं करती मोदी सरकार, आरिफ मोहम्मद खान को राज्यपाल बनाकर दिए संकेत

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 1 सितम्बर: देश के पांच राज्यों में आज मोदी सरकार ने नए राज्यपालों की नियुक्ति की, जिसमें सबसे ज्यादा चर्चा का विषय केरल के नए राज्यपाल नियुक्त किये गए आरिफ मोहम्मद खान बनें हैं.

बता दें कि – आरिफ मोहम्मद खान राजीव गांधी सरकार में कैबिनेट मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता रह चुके हैं, इसके बावजूद मोदी सरकार ने उन्हें केरल का राज्यपाल बनाया।

केरल के राज्यपाल के तौर पर आरिफ मोहम्मद खान खान की नियुक्ति न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया के मुस्लिमों के लिए नरेंद्र मोदी सरकार की तरफ से साफ संकेत है कि बीजेपी को मुस्लिमों से कोई परहेज नहीं है! बल्कि वो पढ़े लिखे, राष्ट्रवादी मुस्लिमों को साथ लेकर चलने को तैयार है!

दरअसल कुछ कटरपंथी और फर्जी सेकुलर, लिब्रलवादी नेता समाज में अफवाह फैला चुके हैं कि – बीजेपी में मुस्लिमों का कोई मान सम्मान नहीं होता, मुस्लिमों से परहेज  करती है, इसलिए बीजेपी किसी मुस्लिम को चुनाव लड़ने का टिकट भी नहीं देती है, लेकिन ये सब महज एक अफवाह हैं, बीजेपी जिस मुसलमान को काबिल समझती है, उसी को टिकट देती है, मंत्री बनाती है और राज्यपाल बनाती है. ताजा उदाहरण आरिफ मोहम्मद खान हैं, जो कांग्रेसी थे, लेकिन अब मोदी सरकार ने उन्हें राज्यपाल बनाया है.