भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को तोड़ने वाले भीम आर्मी के 2 कार्यकर्ता गिरफ्तार

मेरठ, 19 सितम्बर: कुछ दिन पहले ( 4 सितम्बर 2019 ) को मेरठ के सिखेड़ा गांव में डॉ. भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा को तोड़ दिया गया था…भीमराव की प्रतिमा टूटने के बाद भीम आर्मी ने सबसे ज्यादा हंगामा मचाया है…लेकिन अब जो सच्चाई सामने आयी है, वो आपके होश उड़ा देगी जी हाँ.

भीमराव आंबेडकर की मूर्ति तोड़े जाने के मामलें में पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है, दोनों भीम आर्मी के कार्यकर्ता हैं, पुलिस के अनुसार इन आरोपियों ने नई प्रतिमा लगवाने के लिए खुद ही पुरानी प्रतिमा को गिराया था। दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह भीम आर्मी से जुड़े हैं। इस गांव में प्रतिमा को लेकर कई बार जातीय तनाव हो चुका है।

https://twitter.com/bijendra125/status/1173989301874495488?s=20

पुलिस के अनुसार चार सितंबर की रात इंचौली थानाक्षेत्र के गांव सिखेड़ा में डॉ. आंबेडकर की प्रतिमा गिराने की वजह से  ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया था। जिसके बाद एसडीएम और सीओ के सामने भी अनुसूचित जाति के लोगों ने नई प्रतिमा लगवाने की मांग की थी। लेकिन हाईकोर्ट की इजाजत न मिलने के कारण पुरानी प्रतिमा को ही जोड़ कर फिर लगा दिया गया.