सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल बोले, अगर ANI ही झूठ फैलाएगा तो जनता भरोसा किसपर करेगी

फरीदाबाद: सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने कहा है कि अगर ANI ही झूठ फैलाएगा तो जनता किसपर भरोसा करेगी, जो लोग सबको जिम्मेदार बनने की सीख देते हैं वे अपनी जिम्मेदारी भूल जाते हैं.

बात दरअसल ये है कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने फतेहाबाद रैली में सेक्स रेशियो का जिक्र किया जिसमें उन्होंने जनता द्वारा सोशल मीडिया पर किये जा रहे मजाक का जिक्र किया, जनता के बीच चल रहे मजाक को मीडिया ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का ही बयान बता दिया और देखते ही देखते झूठ फ़ैल गया. यह झूठ इतना अधिक फ़ैल गया है कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गाँधी सहित अन्य पार्टियों के नेता बिना असलियत जाने मुख्यमंत्री पर महिलाओं के अपमान का आरोप लगा रहे हैं. असली बयान का वीडियो नीचे दिया गया है –

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मुख्यमंत्री खट्टर ने कश्मीर से लड़कियां लाने की बात कही है जबकि ऐसा नहीं है. उन्होंने कहा कि हमने हरियाणा में सेक्स रेशियो को बेहतर किया है, पहले हरियाणा का नाम बदनाम था कि ये बेटियों को मारने वाला प्रदेश है लेकिन हमें बेटी पढाओ बेटी बचाओ का अभियान चलाया . पहले 1000 लड़कों पर बेटियों की संख्या 850 थी लेकिन अब ये बढ़कर 933 हो गयी है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि ये समाज में परिवर्तन का काम है, चाहे बुजुर्ग हो या नौजवान हो, हर कोई इस बात को समझेगा कि आने वाले समय में ये संकट खड़ा हो सकता है कि लड़कियां कम और लड़के ज्यादा हो जांय.. तो हमारे धनखड़ जी ने कहा कि बिहार से लानी पड़ेंगी, अब कुछ लोग कह रहे हैं कि अब तो कश्मीर खुल गया वहां से ले आयेंगे. मजाक की बातें अलग हैं. लेकिन समाज में जब रेशियो ठीक रहेगी तो संतुलन ठीक बैठेगा.

इस बयान में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने खुद बताया है कि कुछ लोग कह रहे हैं और मजाक की बातें अलग हैं, उसके बावजूद भी कुछ चैनलों ने उनके बयान को विवादास्पद बताते हुए उनके बयान को शर्मनाक बता दिया.

दरअसल मुख्यमंत्री खट्टर के इस बयान की खबर देश की सबसे बड़ी न्यूज़ एजेंसी ANI ने दिखाई, भारत के अधिकतर बड़े मीडिया संस्थान ANI से ही ख़बरें लेते हैं और पूरा देश ANI की रिपोर्टिंग पर भरोसा भी करता है, इसीलिए ANI की खबर पर सभी ने भरोसा कर दिया लेकिन इस खबर का टाइटल ही गलत बनाया गया था ताकि सबको लगे कि यह बयान मुख्यमंत्री खट्टर का ही है. खबर के अंदर खट्टर के बयान को As It is लिखा गया है.
ani-fake-news-on-cm-manohar-lal-khattar

वैसे कश्मीरी बहू लाने की बात कहने में विवादास्पद क्या है ये तो अफवाह फैलाने वाले ही बता सकते हैं, क्या दूसरे राज्यों के लोग कश्मीरी लड़कियों से शादी नहीं करेंगे, पहले कश्मीरी लड़कियों की शादी दूसरे राज्यों के लोगों से नहीं हो पायी थी लेकिन धारा 370 हटने के बाद कश्मीरी लड़कियों की शादी किसी भी राज्य में हो सकती है.