पहलवान ने मीलार्ड से पूछा, हिन्दुओं के खिलाफ पोस्ट करने वालों को भगवद गीता बाँटने की सज़ा मिलेगी

LIKE फेसबुक पेज

रांची, 17 जुलाई: सोशल मीडिया और मेनस्ट्रीम मीडिया में कल से दो नाम काफी चर्चा में हैं, एक नाम की जमकर तारीफ हो रही है तो वहीँ दुसरे नाम की जमकर अवहेलना भी हो रही है, हम बात कर रहे हैं हिन्दू युवती ऋचा भारती और उनको कुरान बांटने की शर्त पर जमानत देने वाले जज मनीष की.

झारखण्ड कोर्ट के जज मनीष कुमार के उस फैसले की जमकर आलोचना हो रही है, जज के इस आदेश के बाद अंतराष्ट्रीय पहलवान योगेश्वर दत्त ने सवाल उठाया है.

दुनिया भर में भारत का नाम रोशन करने वाले गोल्ड मेडलिस्ट पहलवान योगेश्वर ने जज साहब से सवाल पूछा, कि – क्या, जो हिन्दू धर्म के खिलाफ पोस्ट करते हैं उन्हें भी भगवत गीता बाँटने की सजा मिलेगी।

योगेश्वर दत्त ने कहा कि – मात्र एक पोस्ट के लिए एक हिन्दू लड़की को कुरान बाँटने की सज़ा किसी भी सूरत में सही नही है। ना जाने रोज़ कितने ही लोग हिन्दू धर्म के खिलाफ पोस्ट करते हैं, फिर तो क्या उन्हें भी भगवद गीता बाँटने की सज़ा होनी चाहिये?

दरअसल मामला ये है कि – ऋचा भारती मुस्लिमों के खिलाफ सोशल साइट पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने के आरोप में गिरफ्तार हुयी थी, झारखंड की एक अदालत से सोमवार को ऋचा जमानत मिल गयी.

ऋचा को सात-सात हजार रुपये के दो निजी मुचलके भरने का निर्देश कोर्ट की ओर से दिया गया. इसके अलावा उसे कुरान की पांच प्रतियां बांटने का भी निर्देश जज ने दिया. लेकिन ऋचा ने कुरान बांटने से इनकार कर दिया है, ऋचा के समर्थन में पूरा सोशल मीडिया उतर गया है.