तीन तलाक पीड़ित महिला ने अपने ससुर पर लगाया हलाला के नाम पर जबरदस्ती सम्बन्ध बनानें का आरोप

LIKE फेसबुक पेज

यमुनानगर, 4 जुलाई: तीन तलाक और हलाला सभ्य समाज में एक गंदगी की तरह हैं, जिसका नाम लेते ही मुस्लिम महिलायें सिहर उठती हैं, लेकिन रूढ़िवादी मौलाना और मौलवी इसे मानने को तैयार नहीं हैं.

तीन तलाक और हलाला का एक हैरान करने वाला मामला हरियाणा के यमुनानगर से आया है, जहाँ एक तीन तलाक पीड़ित महिला ने अपने ससुर पर ही हलाला के नाम पर जबरदस्ती सम्बन्ध बनानें का आरोप लगाया है.

महिला का आरोप है कि उसके पति ने कुछ समय पहले उसे तीन तलाक कह दिया था. लेकिन उसके सुसर इस बात से सहमत नहीं हुआ और उसने बहू के मायके में जाकर इस तलाक के न होने की बात कह डाली. हालांकि मुस्लिम कानून में तलाक के बाद हलाला भी होता है और ऐसे में आरोप है कि सुसर की गंदी नजर बहू पर थी और उसने घर में ही उसका हलाला करने की बात कह कर उसे वापस ले गए.

कुछ दिन पहले ही सुसर ने बहू के साथ जबरदस्ती कर दी और ऐसे में उसने विरोध भी किया. लेकिन सुसर ने बहू की एक नहीं सुनी और उसके साथ जबरदस्ती करने के बाद उसे मुहं बंद रखने की हिदायत दी और लालच देकर यह कह दिया कि अगर वह चुप रहेगी तो वह उसके नाम पचास गज का प्लाट भी लगा देगा और उसका सारा खर्च भी वही उठाएगा.