मुस्लिम सैलून वाले ने दलितों का बाल काटने से किया इनकार, ध्वस्त हो गई दलित-मुस्लिम एकता

LIKE फेसबुक पेज

मुरादाबाद, 15 जुलाई: कुछ दलितों के ठेकेदारों ने कम जागरूप दलितों को पहले मूर्ख बनाया, फिर हिन्दुओं के खिलाफ भड़काया, उसके बाद नारा दिया दलित-मुस्लिम एकता जिंदाबाद, लेकिन ये दलित मुस्लिम एकता जिंदाबाद का नारा ज्यादा दिन नहीं चल सका, इसका सबसे जीता-जागता उदहारण यूपी का मुरादाबाद है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, यूपी के मुरादाबाद जिले के पीपलसाना गांव में मुस्लिम सैलून वालों ने दलित-मुस्लिम एकता के दावों को ध्वस्त करते हुए कहा है कि हम किसी भी सूरत में दलितों का बाल नहीं काटेंगे और काट भी नहीं रहे हैं, अब वहां के दलित बड़ा और बेकटिंग बाल रखने को मजबूर हैं. इस मामलें में गांव के तीन मुस्लिम नाइयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करके जांच की जा रही है.

बताया जा रहा है कि मुस्लिम सैलून वालों को मनाने के लिए पहले दलितों ने और उसके बाद स्थानीय प्रशासन ने तमाम कोशिशे की लेकिन वो सभी के सभी नाकामयाब रहे, हालात यहाँ तक पहुचे कि दुकाने बंद कर दी गई.