तमिलनाड़ु के सांसद ने किया हिंदी का विरोध, कहा- हिंदी ने गिराया सदन में बहस का स्तर

LIKE फेसबुक पेज

तमिलनाडु, 15 जुलाई: तमिलनाडु की क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टी MDMK के जनरल सेक्रेटरी और सांसद वाइको ने हिंदुस्तान में रहकर खुलेआम हिंदी का विरोध किया है और हिंदी को अपमानित करने का काम किया है.

अंग्रेजी अखबार द हिन्दू को दिए इंटरव्यू में वाइको ने कहा कि संसद में हिंदी में दिए जाने वाले भाषणों की वजह से सदन में बहस का स्तर गिर गया है।

उन्होंने आगे कहा कि – अटल जी, मोरारजी देसाई, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और मनमोहन सिंह सब सदन में अंग्रेजी में भाषण देते थे, सिर्फ मोदी हिंदी के लिए अपनी दीवानगी जाहिर करते हैं। वह ‘हिंदी, हिंदू और हिंदू राष्ट्र’ स्थापित करना चाहते हैं।