अलगाववादियों को समझ आ गई अपनी असली औकात, मोदी सरकार से बातचीत को हुए तैयार

LIKE फेसबुक पेज

जम्मू कश्मीर, 23 जून: लम्बे अर्शे के बाद आख़िरकार कश्मीरी अलगाववादियों को अपनी असली औकात समझ में आ गयी है और वो अब मोदी सरकार से बातचीत करनें के लिए तैयार हैं.

जम्मू और कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने शनिवार को सूबे में बातचीत को लेकर संकेत दिए। राज्यपाल ने कहा कि सूबे में माहौल बदला है और अब हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेता भी बातचीत को तैयार है।

मलिक ने कहा, ‘जब से मैं यहां आया हूं उसके बाद से अब चीजें काफी बेहतर हुई हैं। हुर्रियत को देखिए, राम विलास पासवान उनके दरवाजे पर खड़े थे और उन्होंने दरवाजा नहीं खोला था। आब वे बातचीत को तैयार है। राज्यपाल मलिक दूरदर्शन के एक कार्यक्रम में श्रीनगर में बोल रहे थे। कार्यक्रम में सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और पीएमओ में केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह भी मौजूद थे।