UPA सरकार के कारण चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग में देरी हुई: पूर्व ISRO प्रमुख माधवन नायर

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 14 जून: पूर्व इसरो प्रमुख माधवन नायर ने कांग्रेस प्रायोजित UPA सरकार पर बेहद गंभीर आरोप लगाया है.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व प्रमुख जी माधवन नायर ने कहा कि चंद्रयान-2 को लॉन्च करने की मूल योजना 2012 में थी, लेकिन, तत्कालीन मनमोहन सिंह सरकार की कुछ नीतिगत फैसलों के कारण इसमें देरी हुई.

माधवन नायर ने कहा कि नरेंद्र मोदी के सत्ता संभालने के बाद उन्होंने ऐसी परियोजनाओं पर जोर दिया. इनमें परियोजनाओं में चंद्रयान और गगनयान शामिल था.

बता दें किअंतरिक्ष की गहराइयों और उसमें छिपे रहस्‍यों का पता लगाने के लिए अब इसरो ने भी कमर कस ली है। चंद्रयान-2 और गगनयान के बाद भारत वर्ष 2029 तक अंतरिक्ष में अपना स्‍पेस स्‍टेशन स्‍थापित करेगा। अभी अंतरिक्ष में दो स्‍पेस स्‍टेशन काम कर रहे हैं। इनमें से एक अमेरिका, रूस, यूरोपीय संघ और जापान के सहयोग से चलाया जा रहा अंतरराष्‍ट्रीय स्‍पेस स्‍टेशन (ISS) है और दूसरा चीन का तिआनगोंग-2 है.