टुकड़े-टुकड़े गैंग के सरगना उमर खालिद के अब्बा की जमानत जब्त, बंगाल के जंगीपुर से लड़े थे चुनाव

LIKE फेसबुक पेज
umar-khalid-father-deposit-lost-from-jangipur-bengal

पश्चिम बंगाल, 25 मई: JNU के छात्र और टुकड़े-टुकड़े के गैंग के सरगना कहे जानें वाले उमर खालिद के अब्बा भी इस बार सांसद बनने का ख्वाब देखे थे, लेकिन संजोग वश उनका ख्वाब टूट गया और उनकी जमानत जब्त हो गई.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उमर खालिद के अब्बा सैय्यद कासिम रसूल इलियास पश्चिम बंगाल की जंगीपुर लोकसभा सीट से वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया के टिकट पर मैदान में उतरे थे लेकिन उनकी जमानत जब्त हो गई और वो 2 फीसदी भी वोट नहीं हासिल कर सके.

जंगीपुर लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार खलीलुर रहमान ने भाजपा प्रत्याशी मफूजा खातून को 245782 मतों से पराजित किया। रहमान को 562838 मत मिले जबकि खातून को 317047 मत मिले। कांग्रेस के अभिजीत मुखर्जी तीसरे नंबर पर रहे। मुखर्जी पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पुत्र और निवर्तमान सांसद हैं। उन्हें 255836 मत मिले।