मोदी का विरोध करके विपक्षियों के समर्थन में उतरा TV9 भारतवर्ष, चुनाव आयोग को बताया गुलाम

LIKE फेसबुक पेज
tv-9-bharatvarsh-says-election-commission-is-slaves

नई दिल्ली, 16 मई: देश में लोकसभा चुनाव लगभग समाप्ति की ओर है, चुनाव का अंतिम एवं सातवाँ चरण 19 मई को होना है, लगभग सभी क्षेत्रीय और राजनीतिक पार्टियाँ मैदान में हैं, इसी बीच लोकसभा चुनाव के अलावा मीडिया भी अब जंग लड़ने लगी है और अपनी निष्पक्षता गँवा दी है, जी हाँ सही पढ़ा आपने.

लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहे जानें वाले मीडिया की निष्पक्षता पर लोगों को हमेशा से भरोसा रहा है और रहता आया है लेकिन आज के दौर में मीडिया अपनी निष्पक्षता धीरे-धीरे गंवा रही है, इसका सबसे जीता-जागता उदाहरण TV-9 भारतवर्ष है, जो खुलेआम मोदी सरकार का विरोध करके विपक्ष का समर्थन कर रहा है और देश की संवैधानिक संस्था चुनाव आयोग को गुलाम बता रहा है.

TV-9 भारतवर्ष सीधे-सीधे अपनें चैनल पर हेडिंग चला रहा है आजाद भारत का सबसे गुलाम चुनाव आयोग, आखिर TV9 भारतवर्ष का इस तरह से मोदी विरोध में संवैधानिक संस्था चुनाव आयोग पर सवाल उठाना क्या जायज है.

राजनीतिक पार्टियाँ अगर चुनाव आयोग पर सवाल खड़ा करें तो चलता है, लेकिन खुलेआम मीडिया ऐसे संवैधानिक संस्था का मजाक उडाकर खुद अपनें पाँव पर कुल्हाड़ी मार रहा है और अपनी ही निष्पक्षता को आसानी से गँवा रहा है.