बाप की विरासत पर हक ज़माने के लिए लड़ने लगे लालू पुत्र, तेजप्रताप यादव ने खुद को बताया दूसरा लालू

tej-pratap-yadv-attack-tejaswi-yadav

बिहार, 4 मई: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और चारा चोरी मामलें में जेल काट रहे लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटों में बगावत के सुर जोर पकड लिए हैं, बिहार के जहानाबाद में आयोजित रैली में तेजप्रताप यादव ने खुद को बिहार का दूसरा लालू प्रसाद यादव घोषित कर दिया है।

तेजप्रताप का यह ऐलान एक तरह से अपने पिता लालू प्रसाद यादव की विरासत में दावा ठोकने जैसा है जिसे लालू की गैर मौजूदगी में पार्टी का काम देख रहे तेजस्वी पर बड़े भाई तेज प्रताप का सबसे बड़ा हमला माना जा रहा है.

तेजप्रताप यादव ने कहा ”मैं लालू प्रसाद यादव का खून हूं, वो हमारे आदर्श और गुरू हैं और मैं ही बिहार का दूसरा लालू प्रसाद यादव हूं। तेजप्रताप ने कहा, लालू प्रसाद बहुत ऊर्जावान व्यक्ति हैं। वह एक दिन में 10-12 कार्यक्रमों में शामिल होते थे।

इसके बाद तेज प्रताप ने अपनें भाई तेजस्वी यादव पर इशारों-इशारों में हमला बोलते हुए कहा कि अब नेता सिर्फ दो से चार कार्यक्रमों में बीमार पड़ते हैं। दरअसल, तेजस्वी ने स्वास्थ्य संबंधी बाधाओं के कारण अपनी कई निर्धारित रैलियों को रद्द कर दिया है।