स्मृति ईरानी के जीतते ही ध्वस्त हो गया सिद्धू का वचन, सच्चे सरदार होंगें तो छोड़ देंगें राजनीति

LIKE फेसबुक पेज
smriti-irani-defeated-rahul-gandhi-sidhu-quit-politics

अमेठी, 24 मई: लोकसभा चुनाव के वोटों की गिनती ख़त्म हो गयी और बीजेपी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने में कामयाब रही, वहीँ बात की जाय यूपी की सबसे हाईप्रोफाइल सीट अमेठी की तो वहां स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी का किला ढहा दिया, स्मृति ईरानी के जीतते ही कांग्रेस के नवजोत सिंह सिद्धू की राजनीति का भी अंत हो गया.

बता दें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान सिद्धू कई बड़बोले बयानों को लेकर सुर्खियों में रहे और चुनावी नतीजों के बाद सिद्धू का एक बयान लोगों को याद आ रहा है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर राहुल गांधी अमेठी से लोकसभा चुनाव हार जाते हैं तो वह राजनीति छोड़ देंगे। अगर सिद्धू सच्चे सरदार होंगें तो राजनीति छोड़ देंगें, वरना झूठे समझे जायेंगें.

28 अप्रैल 2019 को जब मीडिया ने उनसे पूछा कि क्या स्मृति ईरानी अमेठी में राहुल गांधी को चुनौती देती नजर आ रही हैं? सिद्धू ने जवाब दिया- नहीं और साथ ही यह भी कहा कि अगर राहुल गांधी अमेठी से चुनाव हार जाते हैं तो वह राजनीति छोड़ देंगे।

स्मृति ईरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अमेठी में 45 हजार से भी ज्यादा वोटों से हरा दिया है। अब सवाल ये उठता है कि क्या सिद्धू अपने बयान पर कायम रहते हुए राजनीति छोड़ेंगे? या फिर अपने ही बयान से किनारा कर लेंगे.