इस संत को ढूढ़ रहे हैं देशभर के लोग, पढ़ें क्यों

LIKE फेसबुक पेज
sant-vairagya-aanand-giri-bhopal-promises-samadhi-after-digvijay-defeat

पाल, 25 मई: लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे गुरुवार 23 मई को घोषित हो चुके हैं, बीजेपी ने इस चुनाव में शानदार बहुमत के साथ जीत हासिल की है।

लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान कई नेता और साधू-संत अपनें बड़बोले बयानों को लेकर सुर्खियों में रहे और चुनावी नतीजों के बाद अब एक ऐसा ही बयान एक संत का लोगों को खूब याद आ रहा है.

दरअसल मामला ये है कि भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने अपनी जीत के लिए हठ योग करवाया था, जिसमें सैकड़ों साधू संत शामिल हुए थे, इसी में से एक संत का नाम था वैराग्य आनंद गिरी जी महाराज जिन्होनें दिग्विजय सिंह का यग्य कराने से पहले बड़ा प्रण लिया था.

दिग्विजय सिंह का यग्य कराने से पहले वैराग्य आनंद गिरी जी महाराज मीडिया से मुखातिब हुए और बातचीत में उन्होंने कहा कि – मैं दिग्विजय सिंह की जीत के लिए साढ़े पांच क्विंटल मिर्ची के साथ दिग्ग-विजय यग्य करनें जा रहा हूँ और अगर कहीं किसी कारणवश दिग्विजय चुनाव हार गए तो मैं उसी कुंड में जिन्दा समाधी ले लूँगा.

वैराग्य आनंद गिरी जी महाराज ने मीडिया से बातचीत में बड़े दावे के साथ कहा था कि मैं सन्यासी हूँ, सन्यासी का यग्य कभी बेकार नहीं जाता, लेकिन उनका सारा यग्य ध्वस्त हो गया और दिग्विजय सिंह बुरी तरह चुनाव हार गए, दिग्विजय सिंह के चुनाव हारते ही देशभर के लोग वैराग्य आनंद गिरी जी महाराज का वीडियो शेयर करके इनका अता-पता ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन ये गायब चल रहे हैं.