ध्वस्त है कैप्टन अमरिंदर सरकार की शासन व्यवस्था, मतदान के दौरान हिंसा में एक की मौत

LIKE फेसबुक पेज
loksabha-election-violent-in-punjab-1-man-dead

पंजाब, 19 मई: आपसी तकरार के कारण पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार की शासन व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है, जिसका नतीजा ये है कि सातवें चरण की वोटिंग के दौरान पंजाब में हिंसा हो गयी, जिसमें एक व्यक्ति को अपनी जान गंवानी पड़ी.

बता दें कि सातवें व आखिरी चरण के मतदान में पंजाब के गुरुदासपुरऔर जालंधर से हिंसा की खबरे सामने आई हैं. अकाली दल और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प देखने को मिली है. पंजाब से सबसे बड़ा हिंसा का मामला खडूर साहिब लोकसभा सीट से आया, मतदान करकर लौट रहे अकाली दल के कार्यकर्ता बंटी सिंह पुत्र चरणजीत सिंह पर कथित कांग्रेस समर्थकों ने तेज हथियार से हमला किया, जिससे उसकी मौत हो गई है.

हालांकि, पंजाब के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हिंसा के मामले में कहा कि ‘राज्य में चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से हो रहे हैं. पुलिस की शुरुआती रिपोर्ट में यह मामला व्यक्तिगत दुश्मनी का सामने आया है.