केपी यादव ने 3 साल पहले सिंधिया से सेल्फी मांगी तो थप्पड़ मार दिया, केपी यादव ने चुनाव हरा दिया

LIKE फेसबुक पेज

गुना: मोदी लहर में कल बड़े बड़े धुरंधर भी चुनाव हार गए. ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस का भविष्य बताया जा रहा था लेकिन कल मोदी लहर में वह भी उड़ गए. उनकी 1.25 लाख वोटों से करारी हार हुई.

jyotiraditya-scindia-lost-seat

बहुत दिलचस्प है गूना सीट की लड़ाई

दरअसल गुना सीट की लड़ाई बहुत दिलचस्प थी, एक कांग्रेसी कार्यकर्ता केपी यादव ने तीन साल पहले ज्योदितादित्य सिंधिया से सेल्फी मांगी थी, बदले में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने केपी यादव को थप्पड़ मारकर वहां से हटा दिया था.

इसके बाद केपी यादव ने गुना सीट से मेहनत शुरू की. चुनाव से पहले वह अमित शाह से मिले और उनसे भाजपा से टिकट माँगा, उन्होंने अपने साथ हुए थप्पड़-कांड का जिक्र किया. अमित शाह ने समझ गए कि यह मेरे लिए चन्द्रगुप्त साबित होगा और केपी यादव को टिकट दे दी.

केपी यादव ने भी अमित शाह को निराश नहीं किया और जी-तोड़ मेहनत करके ज्योतिरादित्य सिंधिया को बुरी तरह से हराकर अपने थप्पड़ का बदला ले लिया.