पूरी तरह झूठा है स्मृति ईरानी दावा, अमेठी में नहीं हुई बूथ कैप्चरिंग: चुनाव आयोग

LIKE फेसबुक पेज
election-commission-found-be-false-allegation-of-smriti-irani-booth-capturing

नई दिल्ली, 7 मई: सोमवार को पांचवें चरण के 7 राज्यों की 51 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ, लेकिन इसी बीच अमेठी से बीजेपी उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया, अपनी बात को मजबूती देनें के लिए स्मृति ईरानी ने सबूत के तौर पर एक बुजुर्ग महिला का सहारा भी लिया, लेकिन चुनाव आयोग ने स्मृति ईरानी के आरोपों को झूठा और निराधार बताया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्य चुनाव अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने कहा कि मामले की जांच करवाई गई. मौके पर सभी पार्टियों के पोलिंग एजेंट से भी पुछताछ की गई. लेकिन जांच में स्मृति के दावे आधारहीन निकले हैं.

बता दें कि अमेठी में सोमवार को पांचवें चरण के तहत मतदान हुआ था. इस दौरान अमेठी जिले की गौरीगंज विधानसभा के गूजर टोला क्षेत्र में बूथ संख्या 316 पर एक महिला मतदाता ने वहां तैनात पीठासीन अधिकारी पर कांग्रेस पार्टी के पक्ष में जबरन वोट कराने का आरोप लगाया था.