चले थे मोदी को हराने, अपनी ही कुर्सी नहीं बचा पाए चंद्रबाबू नायडू, औकात समझ में आ गई

LIKE फेसबुक पेज
chandrababu-naidu-defeated-aandhra-pradesh

आंध्रप्रदेश, 26 मई: कुछ नेताओं को अपनी हैसियत का अंदाजा नहीं होता है, फिर भी वो अपनी छोटी कुर्सी छोड़कर बड़ी कुर्सी पर बैठना चाहते हैं, लेकिन होता क्या है कि उनको बड़ी कुर्सी भी नहीं मिलती और छोटी वाली से भी हाथ धोना पड़ता है, यही हाल आंधप्रदेश के मुख्यमंत्री नायडू का हुआ है.

NDA का साथ छोड़कर खुद पीएम बनने के लिए चंद्रबाबू नायडू ने कांग्रेस की जीत के लिए हर वो कोशिश की जो कर सकते थे पर अब ऐसी घड़ी आ गई है की चन्द्रबाबु को अपनी ही कुर्सी त्यागनी पड़ेगी.

चंद्रबाबू नायडू को देखना पडा हार का मुहं, दरअसल आप की जानकारी के लिए बता दे की, अच्छा ख़ासा मुख्यमंत्री पद पर था पर पता नहीं कैसे यह चुनाव आ गये, जी हाँ नायडू यह ही सोच रहे होंगे क्योंकि कांग्रेस को जिताने के लिए रात-दिन एक करने वाले चंद्रबाबू खुद अपनी सीट से हार गये हैं और उन्हें अपने मुख्यमंत्री पद से भी इस्तीफा देना पड़ेगा.

एक मजबूत विपक्ष और एक गठबंधन बनाने वाले चंद्रबाबू खुद अपनी सीट नहीं बचा पाए. और उन्हें भी हार का सामना करना पडा है. ऐसा लगता है की चंद्रबाबू को कुछ समझ ही नहीं आया होगा की आखिर उनके साथ यह क्या हो गया है.