दलितों के ठेकेदार बनने वाले उदित राज अभी तक अलवर में दलित महिला के गैंगरेप पर हैं मौन

LIKE फेसबुक पेज
alwar-gangrape-dalit-leader-udit-raj-silent

अलवर, 9 मई: अलवर, 8 मई: अलवर में पति के सामनें दलित महिला के साथ हुए गैंगरेप के को दो हफ्ते बीत चुके हैं लेकिन दलितों के ठेकेदार बनने वाले उदित राज जैसे दलित नेता अभी भी मौन है, महिला को न्याय दिलाने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं.

सच्चाई ये है कि उदित राज जैसे नेता कम जागरूप और अनपढ़ दलितों को मूर्ख बनाने का काम करते हैं और बेचारे दलित इनके जाल में फंस जाते है, जहाँ आवाज उठाने की जरूरत रहती है, वहां उदित राज जैसे दलित नेता को सांप सूंघ जाता है.

बता दें कि राजस्थान के अलवर में 26 अप्रैल को कुछ दरिंदों ने दलित दंपती का रास्ता रोक कर सुनसान जगह पर ले जाया गए और पत्नी के साथ पति के सामनें बंधक बनाकर सामूहिक बलात्कार किया गया. कांग्रेस सरकार की बदनामी न हो इसीलिए पुलिस ने लगभग एक हफ्ते तक इस घटना को छुपाया और दलित संगठनों ने भी आवाज न उठाकर पुलिस का बखूबी साथ निभाया.