जलियांवाला बाग़ नरसंहार के लिए ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने मांगी माफ़ी, कहा- जो हुआ वो शर्मनाक था

british-pm-theresa-may-in-british-parliament-today-jallianwalabaghmassacre-said

ब्रिटेन, 10 अप्रैल: 13 अप्रैल 1919 में अमृतसर के जलियांवाला बाग़ नरसंहार काण्ड के लिए आज ब्रिटिश संसद में ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने माफ़ी मांगी है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ब्रिटेन की प्रधानमत्री थेरेसा में ने जलियावाला बाग हत्याकांड को शर्मनाक बताया है और माफ़ी मांगी, आखिरकार ब्रिटेन ने 100 साल बाद यह स्वीकार कि जलियांवाला बाग़ हत्याकांड शर्मनाक था.

गौरतलब है भारत में कई बार ब्रिटेन से यह मांग की गई कि वह इस हत्याकांड के लिए माफी मांगे, लेकिन ब्रटिश हुक्मरानों ने कई बार भारत का दौरा किया साथ ही वह अमृतसर भी गए पर इसके बावजूद कभी इस कृत्य के लिए माफी नहीं मांगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जलियांवाला बाग़ नरसंहार भारत के पंजाब प्रान्त के अमृतसर में स्वर्ण मन्दिर के निकट जलियाँवाला बाग में 13 अप्रैल 1919 (बैसाखी के दिन) हुआ था, रौलेट एक्ट का विरोध करने के लिए एक सभा हो रही थी जिसमें जनरल डायर नामक एक अँग्रेज ऑफिसर ने अचानक उस सभा में उपस्थित भीड़ पर गोलियाँ चलवा दीं जिसमें 400 से अधिक व्यक्ति मरे और २००० से अधिक घायल हुए.

loading...