मिग-21 और मिराज 26/2011 मुंबई हमले के समय भी थे, सिर्फ मोदी नहीं थे इसलिए जंग खाते रहे विमान

LIKE फेसबुक पेज
modi-hai-to-mumkin-hai-congress-not-have-capacity-to-decide

नई दिल्ली: एयर स्ट्राइक के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अहमियत देशवासियों को पता चली है इसलिए देश में तीब्र गति से मोदी लहर बढ़ती जा रही है. यह लहर इतनी तेज है कि कई जगह कांग्रेसी उम्मीदवार ही नहीं मिल रहे हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हमारे पास मिग-21 और मिराज विमान 26/2011 मुंबई हमले के समय भी थे, उस हमले में करीब 200 निर्दोष लोगों को आतंकियों ने ख़त्म किया था.

उस समय हमारे पास विमान तो थे लेकिन सरकार में निर्णय लेने की क्षमता नहीं थी, हाफिज सईद खुलेआम पाकिस्तान में बैठकर भारत के खिलाफ जहर उगलता रहा लेकिन कांग्रेस सरकार ने कुछ नहीं किया. हमारे विमानों को 8 साल तक जंग लगता रहा.

लेकिन हाल ही में 14 फ़रवरी 2019 को जब पुलवामा हमला हुआ और हमारे 42 निर्दोष जवानों को शहीद कर दिया गया तो मोदी सरकार ने बड़ा निर्णय लेते हुए मिराज विमानों को पाकिस्तान रवाना कर दिया और 300 से भी अधिक आतंकियों को ख़त्म कर दिया. इसके अलावा हमारे मिग-21 विमान ने पाकिस्तानी F-16 विमान को मार गिराया.

मतलब अगर देश में मोदी सरकार है तो हमारे विमानों में जंग नहीं लगेंगे और उनका इस्तेमाल होता रहेगा लेकिन अगर कांग्रेस सरकार आयी तो विमानों को जंग लगता रहेगा क्योंकि कांग्रेस सबूत मांगकर हमारी सेना का मनोबल गिराती है. जो पार्टी सेना का मनोबल गिराती है वो सेना को सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक का आदेश कैसे दे सकती है. अब देशवासियों को मोदी की अहमियत पता चल गयी है, लोग बोल रहे हैं कि – मोदी है तो मुमकिन है.