10 ऐसे फैक्ट जो IAF एयर स्ट्राइक में 300+ आतंकियों की मौत को साबित करते हैं विल्कुल सही, पढ़ें

LIKE फेसबुक पेज
indian-airfoce-air-strike-on-pakistan-right-300-terrorist-dead

नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक विल्कुल सही टारगेट पर हुई थी और उसमें करीब 300 आतंकी मारे गए थे. हमारे देश की राजनीतिक पार्टियाँ लाशों का सबूत मांग रही हैं जो सामने आना असंभव है क्योंकि पाकिस्तान कभी नहीं कबूल करेगा कि भारत ने उसके आतंकियों को मारा है, ऐसे में उसकी बदनामी होने के साथ साथ विश्व में पाकिस्तान आतंकी राष्ट्र घोषित कर दिया जाएगा, इससे बचने के लिए पाकिस्तान कुछ भी कर सकता है.

हम आपको कुछ ऐसे तथ्य बताने जा रहे हैं जिसमें पाकिस्तान की पोल खुल जाएगी और यह भी साबित हो जाएगा कि एयर स्ट्राइक में पाकिस्तानी आतंकी स्वाहा हुए थे. हालाँकि यह भी सच है कि भारत की कांग्रेस और अन्य विपक्षी पार्टियाँ यह बात कभी नहीं मानेंगी क्योंकि 2019 चुनाव एकतरफा हो जाएगा और उनकी करारी हार होगी.

फैक्ट नंबर 1 – एयर स्ट्राइक की बात नकारी

एयर स्ट्राइक होते ही पाकिस्तान ने झूठ बोला, उन्होंने एक गड्ढे की फोटो भेजी जिसमें कुछ पेड़ टूटे हुए थे लेकिन 1000 किलो के बम गिरने से कई फूट गहरा गड्ढा बन जाता है और वहां पर सब कुछ काला हो जाता है लेकिन पाकिस्तान द्वारा जारी की गयी फोटो में ऐसा लग रहा था कि फावड़े से गड्ढा खोदा गया हो. इससे साबित होता है कि पाकिस्तान ने झूठ बोला जबकि असली फोटो यह है –

congress-asking-air-strike-proof-satellite-image-show-its-true-news

फैक्ट नंबर 2 – हमले की जगह छुपाई

एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने कहा था कि किसी की मौत नहीं हुई है, हम वहां पर इंटरनेशनल मीडिया को ले जाएंगे और असली फोटो दिखाएंगे लेकिन पाकिस्तान ने ऐसा नहीं किया क्योंकि इससे उसकी पोल खुल जाती, आज तक बालाकोट की एक भी फोटो जारी नहीं हुई, अगर करेंगे तो उनकी पोल खुल जाएगा क्योंकि वहां पर सबकुछ तबाह हो जाएगा. अगर एयर स्ट्राइक की बात गलत होती तो पाकिस्तान वहां पर सभी इंटरनेशनल मीडिया को ले जाता और बालाकोट की वह बिल्डिंग जरूर दिखाता लेकिन उसनें ऐसा नहीं किया क्योंकि सैटेलाईट इमेज में साफ़ साफ़ दिखा रहा है कि पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक हुई है.

फैक्ट नंबर 3 – पाकिस्तान का लगातार झूठ

इस माममे में पाकिस्तान लगातार झूठ बोलता रहा. पहले पाकिस्तान ने बोला कि कोई एयर स्ट्राइक नहीं हुई है, सिर्फ जंगल में बम फेंका गया है लेकिन दूसरी तरफ उन्होंने हाई लेवल मीटिंग शुरू कर दी और बदले की कार्यवाही करने का मन बना लिया, अब ये बताइये, जब आपके यहाँ एयर स्ट्राइक हुई ही नहीं है तो आपको चुप बैठना चाहिए था लेकिन उन्होंने भी अपने F-16 विमानों को भारत पर हमला करने के लिए भेज दिया इससे साबित होता है कि एयर स्ट्राइक हुई थी और पाकिस्तानी आतंकी मारे गए थे, आतंकियों के मारे जाने से पाकिस्तान को इतना चोट पहुंची कि वे भारत पर हमला करने आ गए लेकिन उन्हें भागना पड़ा.

फैक्ट नंबर 4 – F16 पर झूठ

पाकिस्तान ने F-16 पर भी झूठ बोला. उन्होंने कहा कि हमने इस अभियान में F-16 का इस्तेमाल किया ही नहीं जबकि सच ये है कि उन्होंने F-16 विमान भेजा और भारतीय कमांडर ने उसे मार गिराया, अगर उसका F-16 विमान शकुशल होता तो वो अबतक दुनिया को दिखा चुका होता लेकिन उसनें ऐसा नहीं किया और सिर्फ झूठ बोला.

फैक्ट नंबर 5 – दो भारतीय पायलट पकड़ने पर झूठ

विंग कमांडर अभिनन्दन की पाकिस्तान में गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान ने ढिंढोरा पीटा की हमले दो भारतीय फाइटर प्लेन मार गिराए हैं और दो पायलट गिरफ्तार कर लिए हैं, एक का हॉस्पिटल में इलाज किया जा रहा है. जबकि सच ये था कि पाकिस्तान ने सिर्फ एक Mig-21 विमान को मार गिराया था और सिर्फ एक पायलट को गिरफ्तार किया था.

फैक्ट नंबर 6 – अपने ही पायलट की मौत की खबर छुपाई

पाकिस्तान कितना बेशर्म और झूठा देश है कि आप अंदाजा नहीं लगा सकते. उसनें अपने F-16 पायलट की मौत की खबर छुपा ली. जो अपने पायलट की मौत की खबर छुपा सकता है वो देश अपने आतंकियों की मौत को कैसे सार्वजनिक करेगा.

फैक्ट नंबर 7 – गुफा में छुपाए गए पाकिस्तानी आतंकी

आपने देखा होगा कि कुछ हप्तों पहले मसूद अजहर और हाफिज सईद सहित सभी पाकिस्तानी आतंकी खुलेआम पाकिस्तान में घुमते थे, सार्वजनिक सभाएं करते थे और भारत के खिलाफ जहर उगलते थे लेकिन एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने अपने सभी आतंकियों को सैनिक ठिकानों पर छुपा रखा है, उन्हें पता है कि भारत सैनिक ठिकानों पर हमला नहीं करेगा. अगर पाकिस्तान में सब कुछ सही होता तो पाकिस्तानी आतंकियों के बयान जरूर आते लेकिन वह भारत से डरकर बिलों में दुबककर बैठ गए हैं. इससे साबित होता है कि एयर स्ट्राइक हुई, आतंकी मारे गए और अब पाकिस्तानी आतंकियों को लगता है कि भारत कहीं भी हमला कर सकता है.

फैक्ट नंबर 8 – NTRO का दावा

भारत की रिसर्च संस्था NTRO ने एयर स्ट्राइक से पहले बालाकोट के आतंकियों के अड्डे की नेटवर्क मैपिंग की थी जिसमें 280 मोबाइल एक्टिव मिले थे, इसका मतलब था कि आतंकी बिल्डिंग में मौजूद थे और एयर स्ट्राइक के बाद सभी मोबाइल भी बंद हो गए, मतलब आतंकियों के साथ मोबाइल भी जलकर ख़ाक हो गए. भारत के कुछ गद्दार कहते हैं कि किसी ने वहां पर मोबाइल रख दिए होंगे, अब आप सोचिये – सूनसान इलाके में आतंकियों के अड्डे पर कोई यूं ही 280 मोबाइल कैसे रख देगा.

फैक्ट नंबर 9 – कांग्रेस विथ पाकिस्तान

एयर स्ट्राइक के बाद कांग्रेस पार्टी ने कुछ दिनों तक भारतीय सेना के साथ खड़े रहने का भरोसा दिया लेकिन अचानक कांग्रेसी, आप और अन्य पार्टियों के नेताओं का भारतीय सेना से भरोसा उठ गया और वे सबूत मांगने लगे, उनके बयान पाकिस्तानी अख़बारों में सुर्खियाँ बनने लगे. आपको बता दें कि पुलवामा हमला मोदी लहर को ख़त्म करने के लिए कराया गया था लेकिन बदला लेने के बाद फिर से मोदी लहर बन गयी, अब कांग्रेस के पास एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने के अलावा कोई विकल्प नहीं है.

फैक्ट नंबर 10 – पाकिस्तानी मीडिया

हैरानी की बात ये है कि पाकिस्तानी मीडिया भी एयर स्ट्राइक वाले स्थान बालाकोट में नहीं गयी. हमारी जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने सबूत मिटाने के लिए कई दिनों तक वहां किसी को जाने ही नहीं दिया, पाकिस्तानी आर्मी ने आतंकी अड्डे को अपने कब्जे में ले लिया और बिल्डिंग को साफ़ करवाया. अभी भी वहां पर इतना बारूद बिछा है कि पाकिस्तान महीनों तक वहां किसी मीडिया वाले को नहीं जाने देगा क्योंकि उसकी पोल खुल जाएगी.