पाखल टोल अवैध वसूली केस में एक आरोपी को भेजा गया नीमका जेल, मैनेजर सहित कई और नपेंगे

faridabad-pakhal-toll-plaza-case-one-accused-sent-jail-news

फरीदाबाद: पत्रकारों के सामने जिला बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान एल एन पाराशर से अवैध वसूली करने वाले पाखल-धौज रिलाइंस टोल प्लाज़ा के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है. कल एक आरोपी मुकम्मिल को गिरफ्तार किया गया जिसे आज सेक्टर 12 कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे 15 दिन की न्यायिक हिरासत में नीमका जेल भेज दिया गया.

इस मामले में कई अन्य आरोपी अभी फरार हैं, इस मामले में टोल प्लाजा के मैनेजर सहित कई बड़े अधिकारी भी जेल जा सकते हैं क्योंकि शिकायतकर्ता वकील एलएन पराशर का कहना है कि अवैध वसूली का खेल उनकी मर्जी से चल रहा है. आज कोर्ट में न्यायाधीश ने मैनेजर को पेश करने का आदेश दिया.

वकील पराशर का कहना है कि 3-3 रुपए करके रोजाना लाखों रुपए की वसूली होती है और यह पैसे मैनेजर सहित बड़े अधिकारी की जेल में जाते होंगे.

आपको बता दें कि पत्रकारों के सामने तीन टोल कर्मियों ने एक के बाद एक करके वकील एल एन पाराशर से अवैध वसूली की थी. वकील पाराशर का कहना है कि ये अवैध वसूली ठेकेदारों और कंपनी के उच्च अधिकारियों की मिलीभगत से हो रही है.

आपकी जानकारी के लिए दिनांक 25 नवम्बर 2018 को वकील एल एन पाराशर तीन पत्रकार सामाजिक कार्य से धौज गाँव जा रहे थे जो पाखल टोल प्लाज़ा से सिर्फ एक किलोमीटर दूर है, रास्ते में पाखल टोल प्लाज़ा के एक कर्मचारी ने वकील एल एन पाराशर से तीन रुपये की अवैध वसूली की. वैसे तो आसपास जाने के लिए टोल लगना ही नहीं चाहिए लेकिन वकील पाराशर से सोहना आने जाने का टोल 37 की बजाय 40 लिया गया.

LEAVE A REPLY