कांग्रेस सरकार के लिए सिरदर्द बना अमृतसर ट्रेन हादसा, मृतकों के परिवार वालों ने किया प्रदर्शन

amritsar-train-accident-affected-people-protest-against-congress-sarkar

अमृतसर, 21 अक्टूबर: पंजाब के अमृतसर में हुए भीषण रेल हादसे के बाद ज्यादातर लोगों में पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू के खिलाफ गुस्सा है.

अमृतसर रेल हादसे में मारे गए लोगों का परिवार आज अमृतसर बंद करवाने के लिए अमृतसर-जालंधर हाइवे पर प्रदर्शन कर रहा है, इस दौरान पुलिसकर्मियों ने धक्का-मुक्की भी की, लेकिन प्रदर्शनकारी अपनी मांगों की लेकर अड़े हुए है. प्रदर्शनकारियों की माँग है कि मारे गए लोगों के परिवारवालों को अमरिंदर सरकार द्वारा नौकरी दी जाय.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अमृतसर रेल हादसे के बाद कल एक अहम वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें कार्यक्रम के आयोजक डंके की चोट पर कह रहे हैं, कोई फिकर करने की जरूरत नहीं है मैडम (नवजोत कौर) जी इस समय रेलवे लाइन पर 5 हजार लोग आपको सुनने के लिए खड़े हुए हैं. इनके ऊपर से चाहे 500 गाड़ियाँ निकल जाएँ.

सवाल ये उठता है कि नवजोत कौर सिद्धू अच्छी तरह से जानती थी जिस कार्यक्रम की वह मुख्य अतिथि बनी हैं, वह मैदान बिलकुल रेलवे ट्रैक से जुड़ा हुआ है, जिस पर हजारों लोग खड़े हैं, यहाँ कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है, उसके बाद भी नवजोत कौर सिद्धू ने एक बार भी लोगों को पटरी से हटने के लिए कहना जरुरी नहीं समझा, सिर्फ भाषणबाजी करती रही.

इसी दौरान ट्रेन आयी और लोगों को काटते हुए गुजर गयी, उसके बाद नवजोत कौर माइक मंच छोड़कर मौके से फरार हो गई, इस हादसे में 61 लोगों की मौत हो गयी जबकि 72 से अधिक घायल हैं.