बंद हो गयी उमर खालिद के दिमाग की बत्ती, JNU के 5 हजार वोटों की तुलना कर रहा हैं लोकसभा चुनाव से

aajadi-gang-leader-umar-khalid-mined-closed-jnu-election-compare-2019-election

नई दिल्ली, 16 सितम्बर: आजादी गैंग गैंग के नेता और वामपंथी संगठन लेफ्ट के कार्यकर्ता उमर खालिद के दिमाग की बत्ती लगता है इस समय बुझ गयी है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि JNU छात्रसंघ चुनाव में आज वामपंथी संगठन लेफ्ट ने तमाम दंगा फसाद करने के बाद ABVP को हराने में कामयाब रहा और JNU छात्रसंघ का चारों पद अपने नाम कर लिया.

लेफ्ट की जीत से खुश उमर खालिद ने कहा कि JNU का यह चुनाव आरएसएस, बीजेपी के छात्र-छात्र एजेंडा के साथ-साथ जूमलेबाज़ी, आर्थिक लूट, भ्रष्टाचार के खिलाफ है ये आने वाले 2019 लोकसभा चुनाव में जनता के लिए एक सन्देश है.

बता दें कि JNU में मात्र 5185 वोट है जिसकी तुलना उमर खालिद 2019 लोकसभा चुनाव से कर रहा है, बता दूँ की लोकसभा चुनाव में वोट करने लिए भारत की 125 करोड़ जनता है, जो घोषित है.

JNU में ABVP आज भले ही चुनाव हार गया हो लेकिन लेफ्ट को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया है, ABVP की डर  से लेफ्ट ने 2016 में SFI + AISA, 2017 में SFI + AISA + DSF तथा 2018 में SFI + AISA + DSF + AISF + NSUI सहित चार दलों से गठबंधन किया तब जाकर कहीं ABVP को हराने में कामयाब हो पाया है इसी बलबूते इनके नेता इसको 2019 चुनाव से भी जोड़ने लगे हैं, 2019 चुनाव में इस 5 हजार वोट की गिनती कहीं नहीं होती है.

LEAVE A REPLY